उत्तर प्रदेश बड़ी खबर राज्य

हजरत अली के जन्मदिन पर सीएम आदित्यनाथ ने दी बधाई, लोग बोले ‘आप तो ऐसे न थे’

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने हजरत अली के जन्मदिन की शुभकामना दी तो उन्हें ट्विटर पर हिन्दू विचारधारा वाले लोगों ने उन्हें घेरा। 11 अप्रैल को हजरत अली का जन्मदिन मनाया जाता है। सीएम ने मंगल सुबह सुबह ट्वीट कर प्रदेशवासियों को हजरत अली के जन्मदिन की बधाई दी लेकिन सीएम के बधाई ट्वीट से हिन्दू विचारधारा वाले लोगों को आश्चर्य हुआ। उन्होंने उनकी आलोचना शुरू कर दी और यहाँ तक कहा ‘आप तो ऐसे न थे। ‘

अमित कुमार मिश्रा नाम के यूजर ने लिखा, ‘देखकर दुख हुआ कि सेकुलर वाला रोग योगी जी को भी लग गया’ वहीं कई दूसरे यूजर्स ने कहा कि सीएम हिन्दुत्व का चेहरा हैं और उन्हें अपने इमेज से समझौता नहीं करना चाहिए। एक यूजर ने लिखा, क्या? आप ही कहते हैं कि इस देश का संबंध हनुमान से है ह्मायूं से नही तो ये क्या, ये राम,वीर हनुमान का देश है, आप इतना ही कहें और करें।

सीएम ने अपने ट्विटर अकाउंट से हनुमान जयंती, महात्मा ज्योतिबा फुले जी की जयन्ती और कस्तूरबा गांधी की जयन्ती पर भी शुभकामनाएं दी। लेकिन हजरत अली की जयंती पर शुभकामनाएं देने से उनके फॉलोअर्स नाराज हो गये। एक यूजर ने लिखा, ‘आप तो ऐसे ना थे, पूरे मौलाना बन रहे हैं।’ वहीं मुहम्मद अहमद चौधरी ने हजरत साहब के जन्मदिन पर शुभकामनाएं देने के लिए सीएम को बधाई दी और लिखा, शुक्रिया, सबका साथ सबका विकास।’

सीएम को ट्वीट पर जवाब देते हुए धीरेन्द्र नाम के यूजर ने लिखा,’ दु:खद ! योगी जी आप तो सारे हिन्दुओं का दिल ही तोड़ दिये, कम से कम आपसे ये उम्मीद नही थी।’ वहीं वीर योद्धा नाम के एक ट्विटर यूजर ने लिखा, ‘आज आपको भी सेक्युलर बधाई देते देख मुझे यह विश्वास हो गया है कि सत्ता मिलते ही बड़े से बड़ा हिन्दुत्ववादी सेक्युलर बन जाता है।’

https://twitter.com/abhinavcoolcs/status/851712806525259776

बता दें कि हजरत अली इस्लाम धर्म के आखिरी पैगम्बर मुहम्मद साहब के दामाद थे, मुहम्मद साहब की मौत के बाद जिन लोगों ने हजरत अली को अपना नेता चुना वे शिया कहलाये। हजरत अली बहादुर और नेक दिल इंसान माने जाते हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *