देश बड़ी खबर

पीएम मोदी के काम करने के तरीके से नाराज़ था दीपक, उसी ने उड़ाई थी रैली में बम की अफवाह

नई दिल्ली । नोटबंदी और पीएम् नरेंद्र मोदी के काम करने के तरीके से खफा आज़मगढ़ का 21 वर्षीय दीपक कतई नही चाहता कि उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी जीते । इसलिए दीपक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मऊ रैली में बम होने की अफवाह फैलाई और पुलिस कंट्रोल रूम फोन करके बताया कि मऊ रैली में बम धमाका हो सकता है ।

पुलिस ने 21 साल के छात्र दीपक को सोमवार को उसके फोन करने के कुछ ही घंटों बाद गिरफ्तार कर लिया। पुलिस सूत्रों की माने तो दीपक मऊ में आयोजित की गयी पीएम नरेंद्र मोदी की रैली रदद् करवाना चाहता था । वह आज़मगढ़ का रहने वाला है और दिल्ली के अॉफ ओपन लर्निंग से बीए कर रहा है।

उसने कथित तौर पर अपनी आंटी द्वारा फेंकी गई सिम कार्ड से रैली में बम रखे होने की झूठी कॉल की। इसके तुरंत बाद ही उसने फोन स्विच अॉफ कर दिया। दिल्ली पुलिस की टीम ने जब छानबीन की तो सिम का अड्रेस एक महिला का आया, जो आदर्श नगर इलाके में रहती थी। महिला ने पुलिस को बताया कि उसने सिम फेंक दी थी। इसके बाद पुलिस ने टेक्निकल टीम की मदद से आरोपी को बाहरी दिल्ली के भलस्वा डेरी इलाके से पकड़ा।

पुलिस मामले की गहराई से जांच कर रही है। इसके अलावा पुलिस दीपक के मित्रो और रिश्तेदारो से भी दीपक के बारे में और जानकारियां जुटा रही है। पुलिस के अनुसार दीपक के पास से एक डायरी भी मिली है, जिसमें बीजेपी और नरेंद्र मोदी सरकार के कामकाज के तरीकों पर सवाल उठाए गए हैं। दीपक से कई एजेंसियां पूछताछ कर रही हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *