देश बड़ी खबर

किसी व्हाट्सएप ग्रुप से अफवाह फैली तो नपेंगे एडमिन

वाराणसी। यदि किसी व्हाटएप ग्रुप में किसी पोस्ट के ज़रिये अफवाह फैलती है तो उसके एडमिन के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। झूठी, भ्रामक खबरों और अफवाहों पर लगाम लगाने के लिए वाराणसी के जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने एक संयुक्त आदेश जारी कर यह हिदायत दी है।

वाराणसी में पिछले दिनों कुछ ऐसी घटनाएं हुईं जिसके बाद जिला प्रशासन हरकत में आया और सोशल मीडिया व्हाट्स ऐप ग्रुप पर नकेल कसने के लिए फरमान जारी कर दिया. इस आदेश में ग्रुप एडमिन को जिम्मेदार बनाया गया है।

वाराणसी के डीएम योगेश्वर राम मिश्र और एसएसपी नितिन तिवारी ने संयुक्त अनुदेश देते हुए कहा है कि एडमिन वही बने जो उस ग्रुप की जिम्मेदारी उठाने में सक्षम हो और सभी सदस्यों से पूरी तरह परिचित हो. कोई सदस्य गलत बयानी, बिना पुष्टि के समाचार जो अफवाह बन जाए, पोस्ट करता है तो एडमिन तत्काल उसका खंडन करे कि इसका तथ्य सही नहीं है।

इसके अलावा ऐसे सदस्य को फौरन ग्रुप से बाहर करे. अफवाह , भ्रामक तथ्य और सामाजिक समरसता के विरुद्ध पोस्ट होने पर फौरन संबंधित थाने को सूचना दी जाए एडमिन अगर ऐसी पोस्ट पर कार्रवाई नही करता तो उसे भी उस कृत्य में शामिल माना जाएगा और उसके विरुद्ध भी कर्रवाई होगी।

वाराणसी प्रशासन ने सिर्फ इस आदेश को जारी ही नहीं किया बल्कि बनारस के लोहता इलाके से ऐसी ही भ्रामक बात फैलाने के आरोप में दो युवकों को देर शाम गिरफ्तार भी किया है। वाराणसी प्रशासन अभी इससे और आगे जाकर ऐसे व्हाट्स ऐप पर चलने वाले लोकल मीडिया ग्रुप को भी जवाबदेह बनाने के लिए उनका पंजीकरण की योजना बना रहा है. उसमें एडमिन को को किसी भी तथ्य के लिए जिम्मेदार बनाया जाएगा, जिससे कोई अफवाह न फैल सके।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *