देश बड़ी खबर

एक और बीएसएफ जवान का वीडियो वायरल, अफसरों पर लगाया शराब बेचने का आरोप

गांधीधाम । सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक और जवान का विडियो सामने आने से बीएसएफ अफसरों में हड़कम्प मच गया है । बीएसएफ में क्लर्क के पद पर ग्राउंड ड्यूटी करने वाले नवरत्न चौधरी ने अपनी एक फेसबुक पोस्ट में एक वीडियो में आरोप लगाया कि बीएसएफ के अफसरों के लिए आने वाली शराब को बाहर के लोगों को बेचा जा रहा है।

उसने दावा किया कि उसके शिकायत करने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की गई है। चौधरी के इस वीडियो के वायरल होने पर बीएसएफ के अधिकारियों ने उसकी शिकायत पर जांच का आदेश जारी कर दिया।

राजस्थान के बीकानेर के रहने वाले चौधरी गुजरात के कच्छ जिले के गांधीधाम में बीएसएफ की 150वीं बटालियन में तैनात हैं। चौधरी ने यह वीडियो 26 जनवरी को अपलोड किया था। इस वीडियो में एक असैनिक को शराब की बोतलें ले जाते हुए दिखाया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि गुजरात में शराबबंदी लागू है। वहां शराब पीना, खरीदना और बेचना प्रतिबंधित है।

इस वीडियो में चौधरी ने कहा है कि ये शराब जवानों के लिए उनके बचाए पैसे से आती है। जिसे बाहर के लोगों को बेच दिया जाता है। मैंने चार महीने पहले शिकायत दर्ज कराई थी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। इसलिए मुझे इस तरह से देश के सामने आना पड़ा है।

चौधरी ने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा कि हर कोई भ्रष्टाचार का खात्मा चाहता है। लेकिन इसे खत्म करने के लिए कोई भी आगे नहीं आ रहा। हर बार व्हिसिल ब्लोअर को ही सजा मिलती है। ईमानदार और सच्चा सैनिक होने की हमें सजा दी गई है।

गलत बातों की हमने जब भी शिकायत की हमारा तबादला एक नई जगह पर कर दिया गया। लेकिन इससे यह लोग मेरा मनोबल नहीं तोड़ सकते हैं। तीन मिनट के इस वीडियो में चौधरी ने कहा कि अब तानाशाही की सभी हदें पार हो गई हैं।

बीएसएफ में आप खुलेआम भ्रष्टाचार कर सकते हैं। लेकिन अगर आप इसकी शिकायत करेंगे तो आपने बड़ा अपराध किया है। उल्लेखनीय है कि हाल ही में पुंछ की 29वीं बटालियन के एक बीएसएफ जवान ने खराब खाने की शिकायत करते हुए उसका वीडियो फेसबुक पर डाला था।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *