चुनाव

ईवीएम से ही होंगे उत्तर प्रदेश में नगर निगम चुनाव

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में नगर निगम के चुनाव इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से ही होंगे। राज्य निर्वाचन आयोग के पत्र के बाद सोमवार को भारत निर्वाचन आयोग नगर निगम चुनाव के लिए ईवीएम उपलब्ध कराने को तैयार हो गया है।

अब राज्य निर्वाचन आयोग निगम चुनाव जहां ईवीएम से कराएगा वहीं नगर पालिका परिषद व नगर पंचायतों के चुनाव पहले की तरह बैलेट पेपर से होंगे।

बता दें कि राज्य निर्वाचन आयोग मई-जून मेंनगरीय निकाय के चुनाव कराएगा। दरअसल, पिछली बार की तरह अबकी भी राज्य निर्वाचन आयोग ने नगर निगम के चुनाव ईवीएम से कराने के लिए पिछले साल 18 अक्टूबर को भारत निर्वाचन आयोग को पत्र लिखा था।

आयोग ने 10 नवंबर को प्री-2006 की एम-1 मॉडल वाली 20 हजार कंट्रोल यूनिट (सीयू) व 42 हजार बैलेट यूनिट (बीयू) मध्य प्रदेश से आवंटित तो कर दी थी लेकिन, पिछले माह जब राज्य निर्वाचन आयोग ने ईवीएम लेनी चाही तो मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि उन्हें तो आयोग के कहने पर महाराष्ट्र को दे दिया गया है।

भारत निर्वाचन आयोग के इस रुख को वादाखिलाफी मानते हुए राज्य निर्वाचन आयोग ने 31 मार्च को आयोग को पत्र लिखकर तत्काल 25 हजार सीयू व 50 बीयू आवंटित करने का अनुरोध किया। 16 दिन गुजरने के बाद भी कोई जवाब न मिलने पर सोमवार को सार्वजनिक अवकाश होने के बावजूद राज्य निर्वाचन आयोग खोला गया।

राज्य निर्वाचन आयुक्त एसके अग्रवाल ने खुद अपनी ओर से मुख्य निर्वाचन आयुक्त नसीम जैदी को पत्र लिखा। पत्र में अग्रवाल ने उत्तर प्रदेश को आवंटित ईवीएम महाराष्ट्र को दिए जाने के बारे में न बताने का जिक्र करते हुए मुख्य निर्वाचन आयुक्त से कहा कि पूर्व में किए गए वादे का सम्मान किया जाए।

आयोग जल्द से जल्द वादे को निभाए क्योंकि मई-जून में चुनाव कराने को राज्य निर्वाचन आयोग के पास तैयारियों के लिए ज्यादा समय नहीं बचा है। उल्लेखनीय है कि 15 अप्रैल को राज्य निर्वाचन आयुक्त के मिलने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी बैलेट पेपर के बजाय ईवीएम से ही चुनाव कराए जाने पर जोर दिया था।

राज्य निर्वाचन आयोग भले ही ईवीएम से नगर निगम चुनाव कराएगा लेकिन भारत निर्वाचन आयोग का कहना है कि निकाय चुनाव या पंचायत चुनावों में उपयोग में लाए गई ईवीएम के लिए वह जिम्मेदार नहीं है। नगरीय निकाय चुनाव राज्य निर्वाचन आयोग की जिम्मेदारी है और वह इसके लिए खुद ईवीएम खरीदते हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *